Dhanwantharam Thailam Oil Benefits in Hindi – उपयोग, फायदे और मूल्य

Dhanwantharam Thailam एक आयुर्वेदिक तेल (oil) है जिसका उपयोग knee और joint pain के लिए किया जाता है | जानिए इस धन्वंतराम  की जानकारी Hindi में जैसे इसे लेने के फायदे, composition, खुराक (dose) मूल्य (price), दुष्प्रभाव इत्यादि | यह Dhanwantharam तेल एक बहुत ही पुरानी आयुर्वेदिक औषधि है | इसका उपयोग वात रोगों के उपचार में किया जाता है जैसे कि Rheumatoid और गठिया, spondylosis, सिरदर्द और neuro-muscular की समस्या | यह तेल केरल आयुर्वेद पर आधारित है ।

Dhanwantharam oil



धन्वंतराम  में पाई जाने वाली सामग्री (Composition)

धन्वंतराम तेल एक natural oil है | निम्नलिखित कुछ सक्रिय आयुर्वेदिक सामग्रियों को मिलाकर इसका निर्माण किया गया है |

  • Sida cordifolia
  • Water
  • cow milk
  •  Barley
  • Zyziphus jujuba
  • Horse gram –
  • Dashamoola
  • Bilva
  • Agnimantha
  • Shyonaka
  • Patala
  • Gambhari
  • Brihati
  • Kantakari
  • Gokshura
  • Shalaparni
  • Prishnaparni –
  • Oil of Sesamum
  • Meda
  • Mahameda
  • Deodar
  • Manjishta
  • Kakoli
  • Ksheerakakoli
  • Chandana
  • Sariva
  • Kushta
  • Tagara
  • Jeevaka
  • Rishabhaka
  • Saindhava Lavana
  • Kalanusari
  • Shaileya
  • Vacha
  • Agaru
  • Punarnava
  • Ashwagandha
  • Shatavari
  • Ksheerashukla
  • Yashti
  • Haritaki
  • Vibhitaki
  • Amla
  • Shatahva
  • Mashaparni
  • Mudgaparni
  • Cardamom
  • innamon
  • Patra

Dhanwantharam Thailam का उपयोग (Uses)

इस तेल का उपचार बहुत ही उत्तम माना जाता है, इसके कई गुणों के कारण इसे बहुत सारी बीमारियों को ठीक करने में इसका इस्तेमाल किया जाता है |



  • Paralysis की समस्या से ग्रस्त मरीज यदि इस तेल का उपयोग करेंगे तो उन्हें बहुत फायदा मिलेगा |
  • अगर मांशपेशियों की कमजोरी जैसी महसूस होती है तो यह तेल बहुत राहत पहुंचाएगा |
  • Osteoarthritis और joint pain की समस्या है इस तेल के मालिश से इस परेशानी से निजात पा सकते हैं |
  • धनवंतरम तेल का प्रयोग hydrocele ,hernia ,uterine atony आदि दवाओं में भी किया जाता है |

इसके दुष्परिणाम / Side Effects

इस औषधि का सेवन internally और externally दोनों तरह से किया जाता है | यदि इसके खाने के बाद किसी तरह का दुष्परिणाम दिखाई पड़ता है तो अपने डॉक्टर को जरूर बताएं |

और भी कई आयुर्वेदिक औषधि  है जिसक उपयोग हम शरीर में उत्पन्न विभिन्न समस्यों के उपचार के लिए प्रयोग कर सकते हैं :-

सावधानियां

धन्वान्त्रम से जुडी हर तरह की सावधानियों के बारे में जरुर जाने अगर इसका सेवन करने के बारे में सोच रहे है तो इसकी जानकारी डॉक्टर को जरुर होनी चाहिए | और इस तेल की मालिश करना जा रहे है तो एलर्जी टेस्ट करके ही इस तेल का उपयोग करें |

Dhanwantharam की खुराक (Dose)

इस thailam को रोग से प्रभावित जगह पर ही लगायें | इसे दिन में दो बार लगा सकते हैं | यदि internal dose लेने के बारे में सोच रहे है तो उससे जुड़ी जानकारी नीचे दी गयी है |

  • बच्चों को देने के लिए इस तेल की 5 – 10 बुँद को पानी में मिलाकर दे |
  • Adults को इस तेल को 10 – 20 बूंद देने की सलाह दी जाती है |
  • इसे दिन में दो बार दिया जाता है | इसे धन्वान्त्रम कषयं के साथ या फिर गुनगुने दूध के साथ ले सकते है |

Price   / मूल्य

धनवंतरम तेल की MRP price Rs 180.00/- (100ml) है हमारे India में | यह तेल सभी आयुर्वेदिक दुकानों में available होता है |

Leave a Comment