Lupirtin P in Hindi – लुपिर्टिन का उपयोग, लाभ, फायदे की जानकारी

Lupirtin P in Hindi – लुपिर्टिन का उपयोग, लाभ, फायदे की जानकारी

क्या आप Lupirtin P in Hindi में जानकारी खोज रहे हैं? जानिए इसके उपयोग, लाभ, खुराक (dose), साइड-इफेक्ट्स, price, alternative के बारे में | यह Lupirtin p का उपयोग कई प्रकार के दर्द को ठीक करने के लिए किया जाता है | यदि किसी को क्रोनिक दर्द की शिकायत है तो वह मरीज इस दवा का प्रयोग कर सकता है | यह दवा जॉइंट के दर्द, सर में दर्द जैसी समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जाता है |

Lupirtin P



हमारे शरीर में उत्पन्न होने वाले दर्द को ठीक करने के लिए इस्तेमाल होने वाले Lupritin p wiki के बारे में Hindi में जानकारी नीचे प्रदान की गयी है:

Lupirtin P का उपयोग (Uses in Hindi)

जिन बिमारियों के इलाज में Lupirtin P tablet का उपयोग किया जा सकता है, उनके नाम निम्नलिखित हैं |

  • Joint pain – यदि किसी को joints pain की समस्या है तो उसके समाधान के लिए इसका प्रयोग किया जा सकता हैं |
  • Headache – अगर किसी को सर में दर्द है तो उसे दूर करने के लिए इस दवा का उपयोग किया जा सकता है |
  • Nervous diseases – यदि किसी को नर्वस डिजीज हो गया है तो उसे इस दवा से ठीक किया जा सकता है |
  • Arthralgia
  • Muscles diseases – मश्पेशियों में होने वाले विभिन्न बिमारियों के इलाज में इस दवा का इस्तेमाल किया जा सकता है |
  • Joints diseases – जोड़ों में होने वाले दर्द के उपचार के लिए भी इसे उपयोग किया जा सकता है |
  • Toothache – इस दवा की मदद से toothache की problem को दूर किया जा सकता है |
  • Ear pain – कान में होने वाले दर्द के इलाज के लिए भी इसे इस्तेमाल किया जा सकता है |
  • Periods pain – वैसी महिलाएं जिन्हें पीरियड के दौरान दर्द की समस्या रहता है तो वह इस दवा का सेवन कर सकते है |

Lupirtin P के Composition in Hindi – संयोजन

इस दवा के निर्माण में उपयोग होने वाले सभी composition या बोले तो ingredients को नीचे सूचीबद्ध किया गया है |

Sr. No. Name Quantity
1 Flupirtine (100mg)
2 Paracetamol / Acetaminophen (325mg)

Lupirtin P के दुष्परिणाम (Side Effects)

यहाँ कुछ side effects के लक्षणों को सूचीबद्ध किया गया है, जो की इस दवा के कारण उत्पन्न हो सकते हैं |



  • Heartburn – कभी कभी मरीज को सीने में जलन की समस्या होने लगती है |
  • Feeling of sickness – इस दवा का सेवन करने के बाद बुखार आना इस दवा का side effects है |
  • Liver injury
  • Dizziness – इस medicine को लेने के बाद इंसान को चक्कर आने की समस्या हो सकती है |
  • Increased sweating – इस दवा का सेवन करने से बहुत अधिक पसीना आने लगता है |
  • Skin reddening – दवा का सेवन से त्वचा लाल होने लगता है |
  • Allergic reactions – दवा का प्रयोग से कई लोगों को allergic reaction की समस्या हो जाती है |
  • Shortness of breath – दवा का सेवन करने से साँस लेने में तकलीफ हो सकती है |
  • Liver damage – इस दवा का सेवन करने liver damage होने की संभावना हो सकती है |

Lupirtin p Tablet को कैसे और कब खाए (Dose)

  • यह दवा टैबलेट के रूप में उपलब्ध होता है, इसलिए इसे मौखिक रूप से एक बार में निगल कर सेवन करना चाहिए |
  • इस दवा को दिन में दो बार सेवन करना चाहिए |
  • दवा का सेवन भोजन करने के बाद करें |

Substitutes

यहाँ कुछ medicine की सूचि दी गई है, जो Lupirtin p Tablet के alternative हैं, जिनका उपयोग भी किया जा सकता है, तो आइये जानते हैं इसके बारे में:

Sr. No. Medicine Name Manufacturer Company
1 Ketoflam-P Table Lupin Ltd
2 Flugesic-P Tablet Lupin Ltd
3 Pruf P 100 mg/325 mg Tablet Intas Pharmaceuticals Ltd
4 FLUCENT P 100MG/325MG TABLET Crescent Therapeutics Ltd

Warning

Pregnancy

May be unsafe – इस लुपिर्टिन  दवा को pregnancy के वक्त उपयोग करना सुरक्षित माना जाता है |

Lactation

Consult your doctor – इस बारे में अधिक जानकारी उपलब्ध नहीं है, इसलिए अच्छा होगा की उपयोग करने से पहले चिकित्सक से सलाह लें |

Driving

May be unsafe – इस लुपिर्टिन दवा को लेने बाद किसी तरह का वाहन संचालन करना सुरक्षित नहीं है |

Liver

Consult your doctor – दवा का प्रयोग अपने चिकित्सक से advice करने के बाद उपयोग करें |

Price of Lupirtin P / मूल्य

हमारे किसी नजदीकी दवा की दुकान से इस दवा को ख़रीदा जा सकता है | Lupirtin P की mrp Rs.108.00/- (10 tablet ) है हमारे India में |

Disclaimer: दी गयी जानकारी Lupirtin P के बारे में काफी research करने के बाद लिखी गई है | फिर भी आप इसे doctor से consult  कर के ही दवा का उपयोग करे |

यहाँ कुछ और दवा के नाम दिए गए हैं जिनका प्रयोग रोगों के उपचार के लिए प्रयोग किया जा सकता है |

Leave a Comment