MMR Vaccine – Use, Dose, Price, Side-effects in Hindi

Kya aap MMR Vaccine ke hone wale use ko in Hindi mein janana chahate hain? Yah vaccination asal mein Measles, Mumps, & Rubella ko rokne ke kaam aata hai. जानिए इस दवा का उपयोग, dose, age limit, होने वाले side-effects, ingredients से जुडी जानकारी | बच्चो को स्वस्थ और तंदरुस्त रखने में विश्व स्वस्थ संगठन ने कई सारे प्रावधान को मनुष्यों के बीच लाया है | सरकार द्वारा लाए गये सभी प्रावधान में से एक प्रावधान टीकाकरण है |

MMR vaccine

इस टीकाकरण के अंतर्गत कई सारे टीका आते है जिसमे से एक है MMR अर्थात Measles, Mumps, and Rubella Vaccine | यह टीका एक प्रकार का प्रतिरक्षा टीका है जो मनुष्य को तीन खतरनाक बीमारियों Measles, Mumps और Rubella से बचाता है | यह टीका तीन बीमारियों के Attenuated Viruses का मिश्रण है, इसे मानव शरीर में injection के माध्यम से inject किया जाता है | इस टीका का निर्माण Merck Ltd के सदस्य Maurice Hilleman के द्वारा 1963 में किया गया था | आरम्भ में इस टीका का इस्तेमाल मात्र Measles के रोकथाम के लिए किया जाता था | Mumps के लिए टीका का निर्माण 1967 में और Rubella बीमारी के रोकथाम के लिए टीका का निर्माण 1969 में हुआ | कुछ समय के उपरांत 1971 में इन तीनो वैक्सीन को मिलाकर एक संयुक्त vaccine का निर्माण किया गया जो आज MMR के नाम से जाना जाता है |

Health Benefits of MMR Vaccine in Hindi / एम.एम.आर टीकाकरण के फायदे

Measles – इस बीमारी से ग्रषित मनुष्य को बुखार रहता है और साथ ही सर्दी, खासी, लाल आँख और आँख से पानी आती रहती है | इस बीमारी में मनुष्य के कानों में संक्रमण, दस्त, निमोनिया, मस्तिष्क क्षति और मौत भी हो सकता है |

Mumps – इस बीमारी में मनुष्य को बुखार, सर दर्द, मांसपेशियों में दर्द, थकान, भूख का कम लगना, लार ग्रंथि में सुजन होने की शिकायत होती है |

Rubella – इस बीमारी से ग्रषित मनुष्य को बुखार, गले में दर्द, सर दर्द और आँखों में खुजलाहट होती है | अगर कोई गर्भवती महिला इस बीमारी से ग्रषित हो तो उस महिला का गर्भपात हो सकता है या वो बच्चा किसी गंभीर जन्मजात बीमारी के साथ जन्म ले सकता है |

और भी कई vaccine होती हैं, जैसे की:

Age Limit for Vaccine / इस टिका को लेने के लिए सही आयु क्या है  

सभी vaccine को लेने का एक अलग समय अंतराल, dose और तरीका होता है | मुख्य रूप से सभी टीका को लेने का तरीका एक ही होता है, injection के माध्यम से परन्तु इस वैक्सीन को निम्न समय अंतराल पर दो dose पड़ते है |

  • पहला dose बच्चे के एक वर्ष (1 year) की age में पड़ती है |
  • इसका दूसरा dose 4 से 5 वर्ष के age में दिया जाता है |

बच्चों को दिए जाने वाले इस vaccine के अलावा और भी महत्वपूर्ण vaccine होते हैं जिसे की उन्हें दिलाना बहुत ही जरुरी होता है | बच्चों को दी जाने वाली टीकों में से कुछ निम्न प्रकार के हैं :-

BCG Vaccine

Pneumovax 23 Vaccine

Side Effect of MMR

यह vaccine अन्य medicine के अपेच्छाकृत अत्यधिक सुरक्षित है | लेकिन आपको निम्न में से किसी भी प्रकार की समस्या का अनुभव हो तो आप अपने नजदीकी स्वास्थ केंद्र पर संपर्क कर सकते है |

  • टीका लगाने के बाद प्रभावित हिस्से पर होने वाले दर्द से हाँथ का सही से काम नहीं करना |
  • vaccine लगाने के बाद लम्बे समय तक के लिए बुखार का आना |
  • शरीर में हल्के लाल दानो का निकलना |
  • वैक्सीन लगाने के उपरांत शरीर में हल्का दर्द का होना और जोड़ो में कठोरता का अनुभव होना |

Precaution

अगर आप इस टीका को अपने किसी छोटे बच्चो को लगा रहे है तो वैक्सीन लगाने के दरमियाँ आपको कुछ महत्वपूर्ण बातो को ध्यान में रखना अति आवश्यक है |

  • टीके हमेसा किसी कुशल चिकित्सक से ही ले |
  • Vaccine लगाने से पहले अपने सभी समस्या के बारे में डॉक्टर को बताए |

यदि आप  MMR vaccine के बारे में और अधिक जानना चाहते है तो आप https://www.cdc.gov/vaccinesafety/vaccines/mmr-vaccine.html पर click कर इसके बारे में जान सकते हैं |

Leave a Comment